2
ज्योतिषी यरूशलेम जो आऐ
1 हेरोदेस राजा रै टैंमैं जैहणै यहूदीया प्रदेस रै बैतलहम ग्रां मन्ज यीशु रा जन्म भुआ, ता पूर्व दिसा थऊँ कई ज्योतिषी यरूशलेम मन्ज ईच्ची करी पुछणां लगै, 2 कि “यहूदी रा राजा जसेरा जन्म भुआ, सो कड़िआ ? क्ओकि अहै पूर्व दिसा मन्ज तसेरा तारा हेरूआ अतै अहै तसेरी भक्ति करना आऐ।” 3 एह हुणी करी राजा हेरोदेस अतै पुरा यरूशलेम ड़री गो। 4 ता राजै प्रजा रै सब प्रधान याजका अतै शास्त्री जो हैदी करी तिआं थऊँ पुछु, “मसीहा रा जन्म कड़ी भुणा चहिन्दा ?” 5 तिऐं राजै सोगी बल्लु, यहुदिया रै बैतलहम ग्रां मन्ज, क्ओकि भविष्यवक्तै लिखुरा कि:
6 “हे बैतलहम, तू जैड़ा यहूदा रै प्रदेसा मन्ज हा, तू कसी भी तरीकै सेरै अधिकारी थऊँ हल्का निय्आ; क्ओकि तिजो थऊँ अक्क ऐसा राज्य करनैं वाळा अधिकारी नकैंणां, जैस मेरी इस्त्राएली प्रजा री रखबाळी करणीआ।”
7 ता राजै ज्योतषी जो चुपचाप हैदी करी तिंआं थऊँ पुछु कि तारा ठीक कस टैंमैं हुजुरा, 8 अतै राजै तिंआं जो यह बलीकरी बैतलहम जो भैज्जु कि, “गच्छा, तैस गोबरू रै बारै मन्ज ठीक-ठीक पता करा, अतै जैहणै सो मुळी गाला ता मिन्जो इच्ची करी खबर दिऐं ताकि अऊँ भी गिच्ची करी तसेरी भक्ति करूँ।”
9 ज्योतषी तसेरी गल्ला हुणी करी चली गै, अतै जैडा तारा तिऐं पुर्व दिसा मन्ज हेरूरा थु सो तंयारै अग्गो-अग्गो चल्लु; अतै जैड़ी सो गोबरू थु, तैहा जगह ऊपर पुजी करी रूकी गो। 10 तैस तारै जो हेरी करी सो बड़ै खुश भुए। 11 तिऐं तैड़ी पुजी करी गोबरू जो तसेरी माता मरियमा सोगी हेरू, अतै हैरा झुकाई करी गोबरू री भक्ति करी, फिरी अपणा-अपणा झोळू खोली करी तैसिओ सोना, लोबान, अतै गन्धरस भेंट करू। 12 अतै तिंआं ज्योतषी जो सुपना भुआ कि हेरोदेसा बलै फिरी करी मत गान्ह्दें, ता सो होरी बत्ता मितै अपणै देसा जो फिरी गै।
यूसुफ रा मिस्त्र देसा जो गाणा
13 ज्योतषी रै गाहणैं थऊँ बाद प्रभु रा अक्क दूत यूसुफ रै सुपनै आ अतै बल्लु, “उठ, ऐस गोबरू जो अतै सेरी मौआ जो लैई करी मिस्त्र देसा जो नह्ही गा; अतै जैहणै तक अऊँ ना बल्लू तैहणैं तिकर तैठिये ही रैंह; क्ओकि राजा हेरोदेस ऐस गोबरू री तोपा पैऊरा कि ऐसिओ मरवाई देय्आ।”
14 ता सो राती ही उठु अतै गोबरू अतै तसेरी मोआँ जो लैई करी मिस्त्र जो नह्ही गो, 15 अतै जैहणै तिकर हेरोदेस ना मरू सो तेठिये रैहू। ठेरैताये कि यह वचन जैड़ा भविष्यवक्ते बलुरा थु पूरा भोआ: कि “मैंई अपणै पुत्रा जो मिस्त्र थऊँ हैदुरा।”
16 हेरोदेस जो पता लगा कि ज्योतषिये तैस सोगी धोखा करूआ, ता सो बड्डा क्रोधित भुआ, अतै सपाई जो भैजी करी ज्योतषि रै दसुरै ठीक-ठीक टैंमा रै मताबक बैतहलम अतै तठेरै नैड़े तेड़ै री जगह मन्ज दूँ साला थऊँ हल्कै सबी बच्चै जो मरवाई दिता। 17 ता जैड़ा वचन यिर्मयाह भविष्यवक्ते बलुरा थु सो पूरा भुआ:
18 कि “रामाह मन्ज, रूण-कलत पैऊरआ;
राहेल अपणै गोबरू ताऐं रोऊ करदी थी, अतै शांत भुणा ना चाहन्दी थी,
क्ओकि सो अबै ना रैऊरै थियै।”
मिस्त्र देसा जो फिरी करी इणा
19 हेरोदेस रै मरनै थऊँ बाद, प्रभु रा दूत मिस्त्र मन्ज यूसुफ रै सुपनै आ अतै बल्लु, 20 “उठ, गोबरू अतै सेरी मौआ जो लैई करी इस्त्राएला जो फिरी गा, क्ओकि जैड़ा ऐस गोबरू जो मारना चाहन्दै थियै सो मरी गै हिन्न।” 21 तिनी उठी करी गोबरू अतै तसेरी मौआ जो लैऊ, अतै इस्त्राएला जो फिरी आ। 22 पर जैहणै तैसिओ एह पत्ता लग्गु कि हेरोदेसा रा पुत्र अरखिलाउस यहूदीया पुर राज्य करू करदा, ता सो तैड़ी गाणै थऊँ डरू। पर सुपनै मन्ज प्रमात्मैं री चेतावनी पाई करी गलील प्रदेसा जो चली गो, 23 अतै नासरत नां रै शहरा मन्ज गिच्ची बसु, ताकि यह वचन पूरा भोआ, जैड़ा भविष्यवक्ते बलुरा थु; कि “तैस नासरी कहलाणा।”